18 October 2011

अन्ना टीम अब कुछ दिनों अपने सदस्यों का आकलन करे


प्रथम दृष्टया अरविन्द केजरीवाल पर हमले का कोई निष्कर्ष सामने नहीं दीखता है पर इस तरह की विरोधात्मक शैली का विश्लेषण करना जरूरी है...अन्ना टीम के सदस्य संयमित हो सकते हैं किन्तु उन्हें अब अपने आसपास घेराबंदी किये रहते इंडिया अगेंस्ट करप्शन वालों पर निगाह दौडाने की आवश्यकता है...


कई जगह के कार्यक्रमों में हमारे साथ के लोगों के शामिल होने के बाद पता चला कि ये लोग अपने कुकृत्यों से अन्ना टीम को बदनाम सा कर रहे हैं.....

देश व्यापी सफलता के बाद अन्ना टीम भूल बैठी है कि इस देश की जनता जितनी आसानी से लोगों को सर पर बैठती है उतनी ही आसानी और तेजी से धरती पर भी पटक देती है.....

बजाय राजनैतिक कदम अपनाने के अन्ना टीम अब कुछ दिन हमलों का आकलन करे.




No comments: