15 September 2010

अपने जीवन की एक नई पारी की शुरुआत -- शुभकामनायें अपेक्षित




व्यक्ति अपने जीवनकाल में कई तरह के कार्य करता है जिन्हें हम आम बोलचाल की भाषा में कहते हैं कि एक और पारी की शुरुआत। हमने भी अपने जीवन की एक नई पारी की शुरुआत की है। इस पारी में कितनी असफलता और कितनी असफलता मिलती है यह भविष्य के गर्भ में छिपा है। प्रयास करना अपना काम है सो कर दिया आगे जो होगा देखा जायेगा।


चित्र गूगल छवियों से साभार

इस नई पारी का नाम है राजनीतिक सक्रियता। है ऐसा कि बहुत पहले से ही इस क्षेत्र में आने की इच्छा थी किन्तु किसी न किसी कारण से अपनी इच्छा को टालते रहे। इधर विगत कुछ समय से ऐसा लग रहा था कि राजनीति में युवा वर्ग की सक्रियता और बढ़नी चाहिए। इसी सोच को और बल मिला अपने दोस्तों की ओर से, अपने शुभचिन्तकों की ओर से और हमें आशीर्वाद देने वाले बड़े लोगों से। बस चल पड़े इस राह पर।

अगले माह उत्तर प्रदेश में विधान परिषद् सदस्य के लिए चुनाव होने हैं जिसके द्वारा आठ शिक्षक विधायकों को चुना जाना है। इनमें एक शिक्षक विधायक हमारे झाँसी-इलाहाबाद निर्वाचन क्षेत्र से भी चुना जाता है। हमने भी अपने सभी शुभचिन्तकों के सहयोग से इसके लिए अपनी उम्मीदवारी पेश कर दी है। इसके लिए घोषणा करते हुए निर्वाचन क्षेत्र के मतदाताओं हेतु एक अपील भी जारी की। अपील क्या मन के विचार हैं जो उमड़ते-घुमड़ते कागज पर आ निकले। मौका था चुनावी सो अपील के रूप में दिखाई देने लगे।

आज बस इतनी सी सूचना, अपील को कल पढ़ियेगा। आप सभी की शुभकामनाओं और सहयोग की आवश्यकता है। एक काम करने निकले हैं और राजनीति के बहाने से अपने सामाजिक कार्यों को विस्तार देने का प्रयास है। कामना करिये कि सफल हों और राजनीति की वर्तमान गंदली स्थिति में स्वयं को गंदा होने दें।


विशेष --- ये हमारी 275वीं पोस्ट है

8 comments:

Udan Tashtari said...

अनेक शुभकामनाएँ...आपको सफलता मिले, यही दुआ है.

दीपक 'मशाल' said...

प्रार्थना करेंगे कि आप ही जीतें चाचा जी... और पूरा विश्वास है कि राजनीति में प्रवेश कर आप उसकी गन्दगी साफ़ कर देंगे लेकिन उसकी गन्दगी आपको छू नहीं पाएगी.
'चन्दन विष व्यापत नहीं लिपटे रहत भुजंग' आप पर सार्थक होगा..

मो सम कौन ? said...

शुभकामनायें।

ajit gupta said...

विजयी भव। हमारी शुभकामनाएं आपके साथ हैं। हम आपको हमेशा स्‍वच्‍छ राजनीति के मार्ग पर साधक के रूप में प्रस्‍तुत होंगे ना कि बाधक के रूप में।

शिवम् मिश्रा said...


बेहतरीन पोस्ट लेखन के बधाई !

आशा है कि अपने सार्थक लेखन से,आप इसी तरह, ब्लाग जगत को समृद्ध करेंगे।

आपकी पोस्ट की चर्चा ब्लाग4वार्ता पर है-पधारें

ताऊ रामपुरिया said...

सर्वप्रथम तो २७५ वीं पोस्ट के लिये आपको हार्दिक बधाई एवम शुभकामनाएं.

आपकी राजनैतिक सफ़र की शुरुआत के लिये विशेष बधाई और शुभकामनाएं. ईश्वर से प्रार्थना करूंगा कि आप जैसे लोगों को सफ़लता की राह दिखाये जिससे इस राजनैतिक कीचड मे भी कुछ कमल तो खिल सकें और एक सुखद और ईमानदार राजनैतिक वातावरण तैयार कर सकें. ईश्वर अवश्य सफ़लता देगा, समस्त जनता की तरफ़ से आपको शुभकामानाएं.

रामराम.

Rajendra Swarnkar : राजेन्द्र स्वर्णकार said...

डॉ. कुमारेन्द्र सिंह जी सेंगर
नमस्कार !
आपको अवश्य ही सफलता मिले , ईश्वर से यही कामना है !
आप संकल्प के साथ उच्चादर्शों पर चलते हैं , यह अनुकरणीय है।


जन्म दिवस पर
~*~ हार्दिक बधाई एवम् शुभकामनाएं ! ~*~


275वीं पोस्ट भी बधाई का एक अन्य अवसर है … मंगलकामनाएं !!



- राजेन्द्र स्वर्णकार

संजय कुमार चौरसिया said...

श्री कुमारेन्द्र जी, को जन्म दिन की ढेरों बधाईयाँ एवं शुभ-कामनाएं

२७५ बी पोस्ट की बहुत बहुत बधाई ,

ईश्वर से प्रार्थना करते हैं कि राजनीति में आप अपना विशेष स्थान बनायें