07 April 2010

लिव इन रिलेशनशिप और विवाहपूर्व यौन सम्बन्ध बनाने की वकालत करने वाले इन सवालों के जवाब दें


माइक्रो पोस्ट --- ज्वलंत विषय पर --- उनके लिए जो वकालत करते फिर रहे हैं सहजीवन, लिव इन रिलेशनशिप की, विवाह पूर्व यौन सम्बन्ध की सार्थकता की

कुछ सवाल हैं, कृपया सवालों के जवाब देने के लिए ही टिप्पणी करियेगा, अन्यथा हमें टिप्पणी क्षमा सहित निकालनी होगी।

क्या आपने विवाहपूर्व यौन सम्बन्ध बनाए थे?
क्या आप आज भी शादी के बाद किसी और से शारीरिक सम्बन्ध बनाए हैं?
आपके बच्चों (बेटी-बेटा) के द्वारा इस तरह के सम्बन्ध बनाए जाने पर आपको ख़ुशी महसूस होगी?

आपको ज्यादा परेशानी नहीं हो इस कारण बिना अधिकार के भी ये तीन सवाल पूछ डाले. अभी तीन के जवाब ही तो दे दीजिये...............

सवाल स्त्री-पुरुष दोनों के लिए ही हैं.............महिलायें सिर्फ अपने लिए ही न समझें.....






4 comments:

Jandunia said...

इन सवालों का जवाब हम तो नहीं देंगे। क्योंकि इन सवालों से पहले वास्ता रखना पड़ेगा। ऐसा कोई इरादा नहीं है।

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक said...

बढ़िया प्रश्न!
यह चर्चा मे भी लगी है-
http://charchamanch.blogspot.com/2010/04/blog-post_07.html

Neeraj Rohilla said...

पहले सोचा कि जाने दें लेकिन दोबारा सोचा कि अपनी राय देते जाएँ,

जिनको असल में जानकारी चाहिए होती है, वो इस तरह ब्लॉग पर सवाल लगाकर टिपण्णी नहीं मांगते हैं, सर्वे कराने के अपने तरीके होते हैं और उसमे भाग लेने वालों की निजता सबसे प्रमुख होती है,

निजता से मेरा मतलब सिर्फ ये ही नहीं कि भाग लेने वालों को एक दुसरे के परिचय के बारे में पता न चले बल्कि ये भी कि जो उनके जवाब पढ़े उसे भी पता न चले कि जवाब किसका है. इस महत्वपूर्ण बात के चलते कभी कभी सर्वे में आशा अनुरूप परिणाम नहीं आते क्योंकि कभी कभी लोग गलत जवाब भी दे देते हैं....लेकिन खुले आम पूछने पर भी लोग लगत जवाब देते हैं तो उससे कोई ख़ास फर्क नहीं पड़ता...

अगर आपका उद्देश्य सनसनी फैलाना था तो बधाई, क्योकि शायद आप सफल हुए हैं...लेकिन इससे इतर आपका कोई सीरियस उद्देश्य था तो अपना सर्वे www.surveymonkey.com पर बना कर लोगों से पूछ सकते हैं...

आभार,
नीरज रोहिल्ला.

प्यार की कहानियाँ said...

Achhi Maulik Rachna Aapke Dwara प्यार की स्टोरी हिंदी में