30 October 2009

आप जानते हैं इस विचित्र पक्षी का नाम?

एक यात्रा के दौरान एक शहरी बाबू और एक ग्रामीण पास-पास बैठे थे। शहरी बाबू अपनी बातों से गाँव के लोगों को छोटा और कम बुद्धि वाला साबित कर रहे थे। बहुत देर से यह होता देखकर ग्रामीण से रहा नहीं गया।
उसने शहरी बाबू से कहा कि साहब हम गाँव के लोग भले ही कम पढ़े-लिखे होते हों पर अक्ल में किसी से कम नहीं होते।
शहरी बाबू को यह बात नागवार गुजरी। उन्होंने इसे साबित करने को कहा।
ग्रामीण ने कहा कि साहब आप हमारी एक पहेली का जवाब दे दो तो हम समझ जायेंगे कि शहर के लोगों से कम अक्ल वाले होते हैं गाँव वाले।
शहरी बाबू तैयार हो गये। पहेली को सुलझाने में शर्त का भी प्रावधान किया गया।
ग्रामीण ने कहा कि हम गाँव के हैं तो यदि हम पहेली का जवाब न बता सके तो हम आपको पचास रुपये देंगे और यदि आप सही जवाब न दे सके तो आप हमें सौ रुपये देंगे।
शहरी बाबू अपने घमंड के कारण तैयार हो गये और उन्होंने गाँव वाले से पहले पहेली पूछने को कहा।
गाँव वाले ने पहेली पूछी--

‘‘ऐसा कौन सा पक्षी है जो जब उड़ता है तो उसके तीन पैर होते हैं। जब जमीन में चलता है तो उसके दो पैर होते हैं और जब वह पानी में तैरता है तो उसका एक ही पैर होता है।’’

---------------------
शहरी बाबू पहेली का जवाब सोचने लगे, ऐसे विचित्र पक्षी के बारे में सोचने लगे। आप भी सोचिए और बताइये इस पहेली का सही जवाब। हारने-जीतने पर रुपये का कोई लेन-देन नहीं है।

6 comments:

अविनाश वाचस्पति said...

जब रुपये का लेन देन ही नहीं तो फिर हम तो सिर पर पैर रखकर भाग लेते हैं।

संगीता पुरी said...

मनुष्‍य ही है .. पर कैसे .. यह आप बता दें !!

पी.सी.गोदियाल said...

शहरी बाबू : भाई मुझे नहीं मालूम इस पहेली का जबाब

ग्रामीण: तो ठीक है सौ रूपये निकालो !
(शहरी बाबू ने उन्हें सौर रूपये दिए और कहा कि अब तुम बतावो पहली का क्या सही जबाब है )

ग्रामीण: शहरी बाबू, पहेली का जबाब तो हमें भी नहीं मालूम, तो ये लीजिये शर्त हारने के पच्चास रूपये !
:)))))

Pandit Kishore Ji said...

vo pakshi manushya hi hain sahab
upar parachute,dharti par do pair tatha pani me ek chappu

Anil Pusadkar said...

गोदियाल साब तो सब समझ गये और समझा भी गये।

ललित शर्मा said...

कुमारेन्द्र बाबु हम तो गंवैईहा हैं,शहरी बाबु तो चले गये बोल कर चले गये। संगीता जी के उत्तर को हमारा जान लो, नही तो बगुला मान लो,
और हमारे इनाम एटीएम से भेज देना।